आखिर बाबा गुरमीत राम रहीम का सच का हूवा ख़ुलासा, बन गया बलात्कारी बाबा ..!!



शुक्रवार को कोर्ट द्वारा बाबा राम रहीम को दोषी करार घोषित करने के बाद भड़की हिंसा, डेरा प्रेमियों ने मचाया उपद्रव और जलाया बस , पंचकूला की हिंसा: मृतक की संख्या 38 हो गयी और २५० से ज्यादा घायल.

Image result for ram rahim news

बाबा राम रहीम, जिसे रॉकस्टार डू-वेलर और गुरु के रूप में जाना जाता है, जो कि हजारों लोगों से मादक पदार्थों की लत से छेड़खानी करते थे, खुद ही एक व्यक्ति शक्ति, पीढ़ी और गैर-अनुषंगी सेक्स या बलात्कार के आदी रहे हैं। उनके शिकार लोग ऐसे थे जो उनके जीवन पर भरोसा करते थे और उनके पास आध्यात्मिक सांत्वना मांगी थी। अधिकांश लोग अपनी पवित्रता के लिए बहुत ऋणी थे कि अगर वे अपने प्रियजनों के साथ किए गए कार्यों के बारे में पता करने के बावजूद वे चीख़ी नहीं करेंगे।

गुरमीत राम रहीम सिंह के लिए पहली बार बलात्कार के आरोप के बाद 15 साल लग गए। राम रहीम, जिन्होंने महिलाओं को अपने डेरा में ले लिया, क्योंकि बेटियों ने उन्हें सेक्स गुलामों में बदल दिया। उनके विशाल निजी निवास की प्रतिबिंबित खिड़कियाँ यौन शोषण की कहानियों को छुपाती थीं, सुल्तान के बाद से नहीं सुनाई जातीं जहां सम्राटों की रखैल के लिए हथेलियां होती थीं।

गुरमीत राम रहीम के दोषी पाए जाने के बाद भड़की हिंसा में नया बड़ा खुलासा हुआ है. राजस्थान पुलिस ने खुलासा किया है कि इसकी तैयारी पहले से ही कर ली गई थी. राम रहीम को सीबीआई कोर्ट ने जैसे ही दोषी ठहराया बाबा के गृह जनपद श्रीगंगानगर में दो सरकारी दफ्तरों और एक सरकारी वाहन में पेट्रोल बम फेंक कर आग लगा दी गई. इसके बाद पुलिस ने जांच शुरू की तो रामरहीम के 5 भक्तों को डेरा सच्चा सौदा के डेरे से गिरफ्तार किया.

शुक्रवार को कोर्ट द्वारा बाबा राम रहीम को दोषी करार घोषित करने के बाद डेरा प्रेमियों ने मज़या उपद्रव और जलाया बस , पंचकूला की हिंसा: मृतक की संख्या 38 हो गयी और २५० से ज्यादा घायल.

पहले से तय थे डेरा के कोड वर्ड, 4250 और 1650 का ये था मतलब-

श्रीगंगानगर के जवाहर नगर थाना प्रभारी शकील अहमद ने बताया कि पकड़े गए बाबा भक्तों ने बताया कि 16 अगस्त को सिरसा में डेरा प्रेमियों की बैठक हुई थी जिसमें तय हुआ था कि फोन पर कोड 4250 बताना था उसके बाद पेट्रोल बमों से सरकारी कार्यालय और बसें-गाड़ियां जलानी थीं. इसका कोड का मतलब था बाबा गए. वहीं बाबा के बरी होने पर फोन पर कोड वर्ड बताना था 1650. इसका कोर्ड का मतलब शहर में मार्च निकालकर एक दूसरे को बधाईयां देना और मिठाइयां खिलाना रखा गया था.

राजस्थान पुलिस की पूछताछ से हुआ खुलासा

कोटा के भौंरा रेलवे स्टेशन को भी राम रहीम के भक्तों ने आग के हवाले कर दिया. पकड़े गए बाबा भक्तों से जब पुलिस ने हिंसा के बारे में पूछताछ की तो उन्होंने बताया कि 16 अगस्त को सिरसा में डेरा प्रेमियों की बैठक में हिंसा की साजिश रची गई थी. इसमें सजा सुनाए जाने के बाद जिला मुख्यालयों के सारे सरकारी कार्यालयों और रोडवेज की बसों को आग के हवाले करने की योजना बनाई गई थी. यह सनसनीखेज खुलासा पेट्रोल बम फेंककर सरकारी कार्यालयों में आग लगाने वाले गिरफ्तार डेरा प्रेमियों ने किया है.


Image result for ram rahim news



गुरमीत राम रहीम सिंह को बलात्कार दोषी घोषित कर दिया गया है . न्यायाधीश के आदेश आने के बाद राम रहीम को रोहतक शहर के  एक जेल में हिरशत में लिया गया है।


Labels:
What do you say ?

Post a Comment

About Author

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.